Zilingo motivational

Zilingo भारत की 27 वर्षीय पहली महिला ने $ 1 बिलियन का स्टार्ट-अप

Zilingo अंकिता बोस 27 साल की हैं, जो एक फैशन जून्की हैं, और निश्चित रूप से $ 1 बिलियन का स्टार्ट-अप पाने वाली पहली भारतीय महिला बन गई हैं

Zilingo की शुरूआत कैसे हुई?

1Ankiti Bose

Zilingo: महज 4 वर्षों में ही, उसने से 7 मिलियन से अधिक सक्रिय उपयोगकर्ताओं के साथ अपने दक्षिण-पूर्व एशियाई ई-कॉमर्स साइट ज़ीलिंगो को एक वैश्विक मंच पर विकसित किया है। तेजी से विस्तार करने वाले निवेशक के बाद, फरवरी 2019 में स्टार्ट-अप के नवीनतम नकद उसने 970 मिलियन डॉलर का कारोबार किया।

पर्यटन यानी घूमने फिरने के लिए गई थाईलैण्ड में यहां के स्थानीय व्यापारियों के कारोबार को देखकर एक आईडिया मन में आया।

अंकिती बोस जो इस कंपनी Zilingo की मालकिन है, उसने बताया कि 2014 में जब दोस्तों के साथ छुट्टी मनाने बैकांक आई थी। तब दोस्तों के साथ प्रतिष्ठित साप्ताहिक बाजार चाटूचक में खरीददारी करने गई तब देखा कि यहां 15 हजार से अधिक स्टांलों और कुछ 11 हजार 500 स्वतंत्र व्यापारियों को किस तरह से अपने सामानों को बेचने में तकलीफों का सामना करना पड़ रहा है। तब दिमाग में आया कि इन स्थानीय व्यापारियों के सामानों को बेचने के लिए तथा खरीददारों को फायदा पहुेचाने के लिए आनलाईन बिजनेस प्रारंभ करने ठान ली।

बेहतर सोच और प्लान ने सक्सेज दिलाया

वैसे अंकिती बोस मुंबई के सेन्ट जेवियर्स काॅलेज से स्नातक की थी तथा भारत में प्रमुख उद्यम पूंजी फर्म किसोइया केपिटल में निवेश विश्लेषक के रूप में काम करती थी, उस समय उनकी उम्र 23 साल की थी। वैसे तो भारत में टेक हब, अमेरिका के अमेजन, चीन के अलीबाबा और भारत के फ्लिपकार्ट जैसे प्रमुख ई-कामर्स का उदय हो रहा था। लेकिन दक्षिण एशियाई देशों के छोटे व्यापारियों के लिए उस समय अवसरों की कमी थी। दक्षिण एशिया की बात करें तो सबसे ज्यादा जनसंख्या सहित उपभोक्ताओं का केन्द्र रहा है। स्थानीय उत्पादकों को उपभोक्ताओं तक सीधे अपने सामान को बेचने के लिए पूंजी सहित माध्यम की कमी थी। उन्हें बिचोलियों पर निर्भर रहना पड़ता था। इसी सोच को पंख मिला और उनके गुवाहटी के आई.आई.टी. दोस्त ध्रुवे कपूर के साथ मिलकर इस बिजनेस Zilingo Company की शुरूआत की।

इस कंपनी में रजिस्टर करने की छूट थी यानी इसके लिए कोई फीस नहीं ली जाती थी लेकिन बिक्रय पर 10-20 प्रतिशत तक कमीशन बंधा हुआ था। इस प्लान का सबने स्वागत किया और इस कंपनी के साथ छुड़ते चले गए। इससे सभी को फायदा हुआ।

इन्कम देखिए Zilingo की

मार्च 31, 2017 में कंपनी ने 1.8 मिलियन डालर का रेवेन्यू रहा और 31 मार्च 2018 को 12 प्रतिशत रेवेन्यू बढ़ गया। अप्रैल 2018 से जनवरी 2019 तक और चार गुना रेवेन्यू बढ़ गया।

दोस्तों अब बहानों को छोड़ दें
मैं महिला हूं
मेरी उम्र कम हैं
मेरे पास कोई विदेशी कालेज की डिग्री नहीं है
मेरे पास पूंजी नहीं है

सोच को विकसित कीजिए

ऐसा सोच विकसित कीजिए जिसमें सभी को फायदा हो, यहीं किया जिलिंगो ने। पहले स्थानीय व्यापारियों की मदद की यानी उन्हें कम ब्याज पर लोन देना प्रारंभ की। लोन के लिए वित्तीय संस्थानों को विश्वास में लिया गया। उत्पादन को गति देने के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था किया गया। बेहतर उत्पादन से खुश व्यापारी को उचित मूल्य मिला तथा ग्राहकों को भी कम दरों पर सहीं माल मिलना प्रारंभ हुआ। कंपनी पर विश्वास जगने लगा और कंपनी देखते ही देखते शिखर पर पहंुच गया।

आप के मस्तिष्क में कोई प्लान हो तो जरूर बताए

आप भी ऐसा कोई प्लान सोचिए, जो भी आपके मन में मौजूद हो। हम आपको सहयोग करेंगे तथा राष्ट्र हित में लोकहित में अपनी सोच को पंख लगाना प्रारंभ कर दीजिए। यदि आपके पास भी कोई प्लान है तो जरूर कमेंट्स लिखकर इजहार करें । ज्यादा से ज्यादा शेयर भी करें।

Cable Squat की भांति खीचों मत अपनी लाइफ को

click here

YouTube Video: Motivational

click here

7 Comments to “Zilingo भारत की 27 वर्षीय पहली महिला ने $ 1 बिलियन का स्टार्ट-अप”

  1. Bahut prerak 🙏🙏 dhanyavaad Sir

  2. Bahut prerak 🙏🙏

  3. Very nice pankho se kuch nahi hota hosalo se udan hoti hai

  4. बहुत ही प्रेरणादायक है गुरु जी

  5. Motivational story guru ji

  6. motivated story so good

  7. Thank you sir…
    Very informative…
    👌👌👌👌

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *